HEADLINES

काश भारत में समय रहते टेस्टिंग शुरू हो गई होती तो आज स्थिति संतुलन में होती || Status of Corona Virus in Hindi

काश भारत में समय रहते  टेस्टिंग शुरू हो गई होती तो आज स्थिति       संतुलन में होती (Status of Corona Virus in Hindi)

status of corona virus in hindi


आज विश्व के सामने एक विकट समस्या आई है जिसे हम और आप कोरोना वायरस के रूप में जानते है यह एक ऐसा वायरस है जिससे निजात पाने का तरीका अभी तक ढूढा नही जा सके है जिससे आज विश्व के लगभग 209 से अधिक देश ग्रसित हो चुके है | जिससे मरने वालो की संख्या एक लाख से अधिक हो गई है |


कोरोना का  विश्व के कई  देशो में  जानमाल पर हमला - 
________________________________________________________

वर्ल्ड मीटर्स टाट इन्फो के मुताबिक अब तक विश्व में कोरोना वायरस की चपेट में आने वाले मामले की कुल  संख्या 13,30,461 पाई  गई  | जिसमे से अब तक 73871 लोगो की मृत्यु की पुष्टि की जा चुकी है | कोरोना वायरस ने भारत ही नही अपितु विश्व के  209  देश के नागरिक के जान एवं माल दोनों पर प्रहार किया है | कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुवे |विश्व स्वास्थ्य संगठन के द्वारा इसे महामारी घोषित कर दिया गया है | कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए वैश्विक पटल पर कई संस्थाए कार्य कर रही है जिसके  कुछ सकारात्मक  प्रभाव भी देखने को मिल है | आज विश्व में कोरोना वायरस के प्रभाव से ग्रसित होने कुल मरीजो  की संख्या में से अब तक 277,707  लोगो का उपचार कर  किया जा चूका है |

भारत की हालत चिंताजनक -
________________________________________________________

स्वास्थ्य एवं परिवार मंत्रालय के मुताबिक भारत में अब तक कुल 3841 मामले पाए गए जिसमे 31८ लोगो का उपचार कर उन्हें घर भेजा जा चूका है | इसके अलावा भारत में कोरोना वायरस से मरने वालो की संख्या 111 पाई गई  | कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव पर रोकथाम लगाने हेतु  भारत ही नही विश्व के विभिन्न देशो  प्रतिबध्द है | जिसके प्रमाण के रूप में यह देखा जा सकता है की कई देशो के द्वारा कोरोना के प्रभाव को कम करने अथवा कोरोना के बढ़ते चेन को तोड़ने के लिए लॉकडाउन की रणनीति का प्रयोग किया जा रहा है |

जिसका मुख्य उददेश्य सोशल डिस्टेंस को बनाये  रखना तथा सोशल डिस्टेंस के जरिए  कोरोना वायरस के बढ़ते चेन को कमजोर करना

भारत सरकार के द्वारा कोरोना वारयस के संक्रमण के  रोकथाम के लिए उठाए गए  सकारात्मक कदम  -
_______________________________________________________

इस दिशा में भारत सरकार के द्वारा भी सकारात्क प्रयोग किये जा रहे है | अभी हाल ही में देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने देश के अंदर 21 के लॉकडाउन की घोषणा की है | क्योकि कोरोना वायरस अपने तरह का एक अनोखा वायरस है जिससे निजात पाने का तरीका अभी तक नही ढूढा जा सका है लिहाजन एतियातन के तौर में लॉकडाउन ही सबसे उचित हथियार इस दिशा में साबित होगा |भारत सरकार के द्वारा कोरोना के प्रभाव  को कम करने के लिए राज्य एवं केंद्र स्तर पर कई हेल्पलाईन नंबर जारी किये गये है | इसके अलावा भारत सरकार के द्वारा कोरोना वायरस के संदिग्ध व्यक्तियों पर निगरानी करने के लिए  आरोग्य  सेतु एप्प भी लांच किया गया ताकि संदिग्ध  व्यक्ति की  निगरानी की जा सके |

क्या है कोरोना वायरस -  

_______________________________________________________________________________

चीन के वुहान शहर से शुरू होने वाला कोरोना वायरस अपने तरह का एक अनोखा वायरस है जिसे नॉवल कोरोना वायरस नाम दिया गया है |जिससे होने वाली बिमारी को  विश्व स्वास्थ्य संगठन के द्वारा कोविड -19 नाम दिया गया है |जिसका जेनेटिक मेटेरियल आरएनए है |जिसका लैटिन भाषा में अर्थ मुकुट है |जो व्यक्ति से व्यक्ति और जानवरों से जानवरों में तेजी से फैलता है | कोरोना वायरस मुख्यत : संक्रमित व्यक्ति के छूने अथवा उसकी वस्तु को साझा करने से फैलता है |


कोरोना वायरस के लक्षण -

________________________________________________________________________________
  • तेज बुखार आना
  • साँस लेने में तखलीफ होना
  • खासी का आना
  • सुखी खासी का आना
  • जोड़ो में दर्द का होना
  • नाक का बहना
  • थकान

क्या है कोरोना वायरस से निजात पाने के उपाय -  

_______________________________________________________ 

  • अपने नाक , मुँह , आंख को छूने से बचे |
  • अपने हाथो को बार सेनाटाजर से धोते रहे |
  • खासी अथवा छिकाने वाले व्यक्ति से कम से कम 1 मीटर की दुरी बनाये रखे |
  • खासते एवं छिकते व्यक्त रुमाल का इस्तमाल करे
  • खासी , जुखाम , अथवा साँस जैसी समस्या होने पर तुरंत चिकित्सक से सलाह ले |
  • अपने हाथो को अवश्यकता के अनुरूप धोते रहे |
  • भीड़ - भाड वाले स्थानों पर जाने से बचे बहुत आवश्यक कार्य होने पर ही जाए
  • छिकते एवं खासते  व्यक्त अपने मुँह को टीसु पेपर से ढक ले

कोरोना वायरस के सकारात्मक प्रभाव - 

_______________________________________________________
  • पर्यावरण के प्रदुषण के भार में कमी
  • पारिवारिक नजदीकिय में बढ़ोत्तरी
  • भावनात्मक सम्बन्धो में सुधार


कोरोना वायरस के नकारात्मक प्रभाव - 

_______________________________________________________


यदि भारत के कोरोना के संक्रमण की रोकथाम के लिए भारत सरकार द्वारा देश में टेस्टिंग पहले शुरु  हो गई होती हो स्थिति आज के समान नही होती आईये हम सब मिलकर  सतर्कता एवं जागरूकता के जरिए  कोरोना वायरस से  खुद का तथा दुसरो की सुरक्षा सुनिश्चित करे | सतर्कता एवं जागरूकता कोरोना वायरस से लड़ाई में अहम भूमिका निभाएगी | आईये हम सब मिलकर क्यों न कोरोना से लड़ा जाए |  धन्यवाद !



________________________________________________________________________________
काश भारत में समय रहते टेस्टिंग शुरू हो गई होती तो आज स्थिति संतुलन में होती  || Status of Corona Virus in Hindi  नामक  यह  आर्टिकल आपको कैसा लगा आपके इसके सुझाव कॉमेट बॉक्स में कॉमेट करके दे सकते है |  धन्यवाद !

More -  जाने आखिर क्या है कोरोना वायरस (Corona Virus In Hindi)
लेखक - शिव कुमार खरवार 

Share this:

Post a comment

 
Copyright © 2020 Society Of India . Designed by OddThemes